राष्ट्रीय

दिल्ली नगर निगम चुनाव में शाम साढ़े पांच बजे तक 50 प्रतिशत हुआ मतदान

नई दिल्ली। दिल्ली नगर निगम (एमसीडी) के 250 वार्डों के लिए रविवार को मतदान शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न हो गया। शाम साढ़े पांच बजे तक करीब 50 प्रतिशत मतदान हुआ। इस बीच, शाम 5.30 बजे से पहले अपने-अपने बूथों पर वोट डालने पहुंचे मतदाता अभी भी वोट डालने का इंतजार कर रहे हैं। ऐसे में मतदान प्रतिशत के अभी थोड़ा बढ़ने की संभावना है। पिछली बार 2017 में मतदान का प्रतिशत 54 प्रतिशत रहा था। राज्य चुनाव आयोग का कहना है कि दिल्ली एमसीडी चुनाव में सभी 250 वार्डों में शाम 5.30 बजे तक लगभग 50 प्रतिशत मतदान हुआ है।

एकीकरण के बाद हुए मतदान में दिल्ली नगर निगम के 250 वार्डों के लिए मतदान आज सम्पन्न हुआ। मतदान को लेकर कुछ जगहों से मतदाता सूची से जुड़ी शिकायतें मिलीं। कुछ लोगों का कहना था कि मतदाता सूची में उनका नाम नहीं है। दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष का भी नाम मतदाता सूची से गायब था। मतदान कार्यक्रम सुबह 8 बजे शुरू हुआ और शाम 5.30 बजे तक जारी रहा। दिल्ली में मतदाताओं ने सुबह से ही अपने मत का उपयोग करना शुरू कर दिया था। नगर निगम में मुख्य मुकाबला भारतीय जनता पार्टी और आम आदमी पार्टी के बीच है। नगर निगम में भाजपा और दिल्ली सरकार में आप का कब्जा है।

दिल्ली नगर निगम चुनाव (एमसीडी) की 250 सीटों पर रविवार सुबह आठ बजे मतदान शुरू हुआ था। एमसीडी चुनाव के लिए राज्य में 13,638 मतदान केंद्र बनाए गए थे। इसमें से महिलाओं के लिए विशेषरूप से 68 पिंक मतदान केन्द्र बनाए गए थे। वहीं 68 मॉडल मतदान केंद्र भी बनाए गए थे। मतदान को शांतिपूर्ण तरीके से कराने के लिए पोलिंग बूथों पर सुरक्षा का खास ध्यान रखा गया था। एमसीडी चुनाव के लिए विभिन्न मतदान केंद्रों पर 40,000 पुलिसकर्मी तैनात रहे। इसके साथ ही करीब 20 हजार होमगार्ड्स भी तैनात किए ।

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अनिल चौधरी ने आरोप लगाया था कि उनका नाम मतदाता सूची से हटा दिया गया है। दिल्ली राज्य निर्वाचन आयोग से शिकायत की थी इसके जवाब में आयोग ने कहा कि राज्य निर्वाचन आयोग केवल चुनाव आयोग की ओर से दिए गए की गई मतदाता सूची का ही उपयोग किया है राज्य निर्वाचन आयोग का किसी के नाम को हटाने और जोड़ने का कोई अधिकार नहीं है वह इस मामले में सीईओ दिल्ली से शिकायत कर सकते हैं। इसी बीच एमसीडी चुनाव के लिए पहली बार पोटा केबिन को मतदान केंद्र के रूप में उपयोग किया गया गोविंदपुरी में मुख्य सड़क के पास पर भीड़ को कम करने के लिए इसको बनाया गया था।

इसी बीच आम आदमी पार्टी ने मतदान प्रतिशत कम होने पर लोगों से एक विशेष अपील की। पार्टी नेता सौरभ भारद्वाज ने कहा कि आम आदमी पार्टी के मतदाताओं में तेजी से चलाया जा रहा है कि आप पार्टी जीत रही है और वह वोट डालने ना जाए क्योंकि इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा। उन्होंने कहा कि हर वोट कीमती है और लोगों को वोट डालना चाहिए। कुछ ऐसा ही बयान दिल्ली के मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भी दिया। वहीं भाजपा सांसद और दिल्ली प्रदेश के पूर्व अध्यक्ष मनोज तिवारी ने भी करीब 450 भाजपा समर्थकों के नाम मतदाता सूची से गायब होने का दावा करते हुए राज्य चुनाव आयोग से शिकायत की। उन्होंने वार्ड में चुनाव रद्द करने और फिर से चुनाव कराने की मांग की है।

मनोज तिवारी ने यमुना विहार मतदान केंद्र सुभाष मोहल्ला वार्ड में पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। भाजपा सांसद ने आगे आरोप लगाया कि यह दिल्ली सरकार की बड़ी साजिश है। मैं इसके खिलाफ शिकायत करूंगा और इस चुनाव को रद्द करने और फिर से चुनाव कराने की अपील करूंगा। तिवारी ने कहा कि मैंने राज्य चुनाव आयुक्त से बात की है और उनके पास शिकायत दर्ज कराई है। जरूरत पड़ने पर हम यहां चुनाव रद्द करने की मांग करेंगे। उन्होंने कहा कि वह कानूनी विकल्प भी तलाशेंगे।

Dainik Aaj

दैनिक आज मीडिया मचों वाला एक समाचार एजेन्सी है। इस संगठन का मिशन बेहतर आपसी समझ पैदा करने वाले एक मंच के रूप में काम करना और एक बहु-जातीय एवं बहु-सांस्कृतिक देश को एक राष्ट्र में बदलने के लक्ष्य की प्राप्ति को आसान बनाना है। इस संगठन के सभी मंच- प्रिंट, डिजिटल, सामाजिक मीडिया और वीडियो मीडिया -प्रतिबद्ध रिपोर्टिंग के माध्यम से उच्च गुणवत्ता वाली और आकर्षक सामग्री देने का प्रयास करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button